फोरेक्स ट्रेडिंग क्या है ?

जिस तरह शेयर बाजार या कमोडिटी बाजार में शेयरों या कमोडिटी की ट्रेडिंग होता है, उसी तरह ‘फॉरेक्स मार्केट या विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में कई देशों की मुद्राओं की ट्रेडिंग होता है। इसे एफएक्स (FX) ट्रेडिंग कहते हैं।

विदेशी मुद्रा ट्रेडिंग का लाभ कोई शुल्क या अप्रत्यक्ष कमीशन नहीं 24 घंटे बाजार कार्रवाई व्यापार मुद्रा जोड़े के दर्जनों करने के लिए की क्षमता अपने लाभ के अवसरों को अधिकतम करने के लिए प्रचलित उत्तोलन लाभ की क्षमता बढ़ती है और गिरती कीमतों से उच्चतम करने के लिए अन्य वित्तीय बाजारों की तुलना में करलता ।

पहुँच ऑनलाइन ट्रेडिंग प्लेटफॉर्म के माध्यम से विभिन्न उपकरणों से बाजार फॉरेक्स बाजार में हुए सभी ट्रांजेक्शनों में दो करेंसियां की खरीद और बिक्री एक साथ होती है। इन्हें ‘करेंसी युग्म’ कहते हैं, और इसमें बेस करेंसी और कोट करेंसी होती है। नीचे दिया गया प्रदर्शन फॉरेक्स युग्म EUR / USD (यूरो/यूएस डॉलर) है, जो फॉरेक्स बाजार पर उपयोग किए जाने वाले सबसे आम करेंसी युग्मों में से एक है।

बेस करेंसी – फॉरेक्स युग्म में दिखाई देने वाली पहली करेंसी बेस करेंसी होती है। यह करेंसी कोट करेंसी के बदले में खरीदी या बेची जाती है।

ऊपर दिए गए उदाहरण के बेस पर, 1 EUR खरीदने के लिए एक ट्रेडर के 1.0916 USD खर्च होंगे। वैकल्पिक तौर पर, ट्रेडर 1.0916 USD के लिए 1 EUR बेच सकता है।

फोरेक्स ट्रेडिंग क्या है ?

फॉरेक्स ट्रेडिंग की कार्यप्रणाली कैसा होता है?

ट्रेड में एक करेंसी का मूल्य अन्य करेंसी के मूल्य से संबद्ध है, इसलिए आप हमेशा एक समय में दो करेंसियां के साथ काम करेंगे। करेंसी युग्म के कोटेशन में दिखाई देने वाली पहली करेंसी बेस करेंसी है, उसके बाद कोट करेंसी होती है।करेंसियां के बीच मूल्य में अंतर ही आपका लाभ या हानि होता है।

फॉरेक्स ट्रेडिंग की शुरूआत कैसे करें?

विनियमित ब्रोकर देखें जिसके पास कम से कम 5 वर्ष का ट्रैक रिकॉर्ड है। यदि आपका ब्रोकर नियामक नियमों का पालन करे, तो आप सुनिश्चित रहें कि वो वैध है। आपके पास सक्रिय अकाउंट होने पर आप ट्रेड कर सकते हैं लेकिन अपने ट्रेडिंग की लागत कवर करने के लिए आपको डिपॉजिट करना होगा। इसे मार्जिन अकाउंट कहते हैं।

Forex Trading Kya Hai: क्या है फॉरेक्स ट्रेडिंग, जानें यहां करेंसी ट्रेडिंग क्या है कैसे कमा सकते हैं पैसे

What is Forex Trading: फॉरेक्स करंसी ट्रेडिंग के ग्लोबल मार्केट के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला टर्म है। यूरो को डॉलर्स से एक्सचेंज करना हो डॉलर को रुपये से, यह सब फॉरेक्स यानी फॉरेन एक्सचेंज मार्केट का ही हिस्सा है। आज इंटरनेट की मदद से आप भी इसे घर बैठे कर सकते हैं और पैसे कमा सकते हैं। बस आपको इंटरनेट कनेक्शन के साथ एक कंप्यूटर चाहिए और एक फॉरेक्स ब्रोकर के साथ ट्रेडिंग अकाउंट।

KA

हाइलाइट्स

  • फॉरेक्स करंसी ट्रेडिंग के ग्लोबल मार्केट के लिए इस्तेमाल किया जाने वाला टर्म है
  • 5.3 ट्रिलियन डॉलर के दैनिक लेनदेन के साथ है दुनिया का सबसे बड़ा फाइनैंशल मार्केट
  • फॉरेक्स मार्केट में आप भी पैसे कमा सकते हैं, उसके लिए बस एक ट्रेडिंग अकाउंट चाहिए

आप भी कर सकते हैं फॉरेक्स ट्रेडिंग
फॉरेक्स ट्रेडिंग कोई रॉकेट साइंस नहीं है और आज इंटरनेट की मदद से आप भी इसे घर बैठे कर सकते हैं। बिल्कुल बड़े-बड़े बैंक और फाइनैंशल ऑर्गनाइजेशन्स की तरह। बस करेंसी ट्रेडिंग क्या है आपको इंटरनेट कनेक्शन के साथ एक कंप्यूटर चाहिए और एक फॉरेक्स ब्रोकर के साथ ट्रेडिंग अकाउंट।

फॉरेक्स ट्रेडिंग ऐसे करती है काम
फॉरेक्स मार्केट में एक करंसी को दूसरी करंसी से बदला जाता है। ट्रेडिंग में सबसे ज्यादा जरूरी बात होती है एक्सचेंज रेट। मतलब एक करंसी को दूसरी करंसी से एक्सचेंज करने की दर क्या होगी। आपने आमतौर पर देखा होगा कि रुपये की कीमत डॉलर की अपेक्षा इतनी है या डॉलर की कीमत यूरो की अपेक्षा इतनी है। आसान भाषा में कहें तो इस वक्त 16 नवंबर को रुपये की दर डॉलर की अपेक्षा 71.84 है यानी एक डॉलर खरीदने के लिए आपको 71.84 रुपये चुकाने होंगे।

D

फॉरेक्स मार्केट से कैसे कमा सकते हैं पैसे
यहां आपको उदाहरण देते हैं जिसके जरिए आप फॉरेक्स मार्केट से पैसे कमा सकते हैं या ट्रेडिंग कर सकते हैं। आप डॉलर (USD) के बदले 1,000 यूरोज़ (EUR) लेने का मन बनाते हैं। मान लीजिए कि जिस वक्त आपने यूरो खरीदे उस वक्त डॉलर/यूरो का एक्सचेंज रेट 1.45 था यानी आपको 1,000 यूरो खरीदने के लिए 1,450 डॉलर देने पड़े। कुछ समय बाद एक्सचेंज रेट में थोड़ा परिवर्तन हुआ और यह बढ़कर 1.55 हो गया। अब जब आप 1,000 यूरो बेचेंगे तो आपको 1,550 डॉलर मिलेंगे। इस तरह आपको कुल 100 डॉलर का फायदा हुआ। इसी तरह अगर यूरो बेचने के वक्त एक्सचेंज रेट 1.35 रहा, तो करेंसी ट्रेडिंग क्या है आपको उन्हीं 1000 यूरो के बदले 1,350 डॉलर मिलेंगे यानी आपको 100 डॉलर का नुकसान हुआ।

फॉरेक्स मार्केट में बड़े-बड़े प्लेयर्स, एजेंट्स, फाइनैंशल कंपनियां इसी तरह पैसे बनाती हैं।

क्रिप्टो व्यापार करना सीखें

Learn to Trade Crypto

निवेशक क्रिप्टोक्यूरेंसी ट्रेडिंग को पसंद हैं क्योंकि वे बहुत अस्थिर हैं और यदि बाजार में सही ढंग से समय बद्ध हैं, तो ट्रेडिंग क्रिप्टो मुद्राएं पारंपरिक निवेशों की तुलना में बहुत अधिक रिटर्न ला सकती हैं। यह मत भूलो कि क्रिप्टोकरेंसी ट्रेडिंग अपनी अस्थिर प्रकृति के कारण जोखिम भरा और लाभदायक दोनों है। वैसे हेजिंग या डाइवर्सिंग से रिस्क कम किया जा सकता है.

क्रिप्टो मुद्रा व्यापार एक सीएफडी ट्रेडिंग खाते के माध्यम से किया जा सकता है या एक्सचेंज के माध्यम से आधार सिक्के खरीदने और बेचने के लिए किया जा सकता है। क्रिप्टो मुद्रा सीएफडी ट्रेडिंग व्यापारियों को अंतर्निहित सिक्कों के मालिक बनने के बिना क्रिप्टो मुद्राओं के मूल्य आंदोलनों पर अनुमान लगाने की अनुमति देता है.

व्यापारी लंबे या छोटे हो सकते हैं यदि उन्हें लगता है कि क्रिप्टोक्यूरेंसी मूल्य में वृद्धि या गिरावट आएगी। क्रिप्टो मुद्रा CFDs को उत्तोलन के साथ कारोबार किया जा सकता है, हालांकि लाभ या हानि की गणना अभी भी आपके पूर्ण स्थिति आकार के अनुसार की जाती है, इसलिए उत्तोलन लाभ और हानि दोनों को बढ़ाता.

जैसा कि आप देख सकते हैं, क्रिप्टो मुद्राओं का व्यापार करना काफी मुश्किल है.

लेकिन यह उतना कठिन नहीं है जितना कि यह ध्वनि हो सकता है.
लेट देखें कि यह कैसे काम करता है

क्रिप्टो मुद्रा व्यापार के बारे में जानें

क्रिप्टो करेंसी के साथ व्यापार करना सीखना भ्रमित हो सकता है। आइए देखें कि क्या हम आपको क्रिप्टो के साथ अधिक आरामदायक व्यापार महसूस करने में मदद करने के लिए मूल बातें तोड़ सकते हैं.

जैसा कि हमने पहले कहा था कि क्रिप्टो मुद्रा के साथ कोई भी व्यापार जोखिम करेंसी ट्रेडिंग क्या है का एक बड़ा सौदा के साथ आता है, क्योंकि यहां तक कि अधिक लोकप्रिय क्रिप्टो मुद्राओं की अस्थिरता काफी अप्रत्याशित हो सकती है, करेंसी ट्रेडिंग क्या है जो एक जोखिम है जिसे प्रबंधित किया जा सकता है, लेकिन हम इसके बारे में एक और लेख में बात करेंगे.

नोट: हमेशा उतना ही निवेश करें जितना आप खोने का जोखिम उठा सकते हैं, और अधिक नहीं

'Currency trading'

शुक्रवार सुबह के सत्र में भारतीय रुपये में 80.75 प्रति डॉलर की दर से कारोबार हो रहा था. शुक्रवार को रुपया 80.6888 पर खुला, जबकि पिछले सत्र में यह 81.8112 पर बंद हुआ था.

कच्चे तेल की कीमतों और डॉलर (Dollar) सूचकांक में मजबूती से अमेरिकी मुद्रा (American ) के मुकाबले रुपया गुरुवार को 55 पैसे गिरकर 82.17 प्रति डॉलर के सर्वकालिक निचले स्तर पर पहुंच गया.

अंतरबैंक विदेशी मुद्रा विनिमय बाजार में अमेरिकी डॉलर के मुकाबले रुपया 77.53 पर खुला, और आगे बढ़त दर्ज करते हुए 77.46 के भाव पर आ गया, करेंसी ट्रेडिंग क्या है जो पिछले बंद के मुकाबले 12 पैसे की तेजी दर्शाता है.

पिछले कुछ सालों में डिजिटल करेंसी और डिजिटल वॉलेट्स का इस्तेमाल बड़े करेंसी ट्रेडिंग क्या है स्तर पर फैला है और क्रिप्टोकरेंसी की बढ़ती लोकप्रियता से वर्चुअल करेंसी और वर्चुअल वॉलेट का कॉन्सेप्ट भी आ गया है. लेकिन ये सारी चीजें जितनी जल्दी-जल्दी हुई है, उससे थोड़ा भ्रम जरूर फैला है. लोग अकसर लोग क्रिप्टोकरेंसी को डिजिटल करेंसी कहते दिख जाते हैं, लेकिन इन दोनों में फर्क है.

क्रिप्टो में निवेश करना थोड़ा जटिल प्रक्रिया हो सकती है. इसमें माइनिंग, क्रिप्टो एक्सचेंज पर ट्रेडिंग फिर क्रिप्टो वॉलेट को मेंटेन करने जैसी कई जरूरी चीजें होती हैं, जिनकी जानकारी होनी जरूरी होती है. हम आपको निवेश से पहले की कुछ बेसिक बातें बता रहे हैं.

क्रिप्टो एक्सचेंज पर ही क्रिप्टो ट्रे़डिंग होती है. एक्सचेंज पर आप अपनी क्रिप्टोकरेंसी स्टोर भी कर सकते हैं. वहीं, वॉलेट ऐसा माध्यम होता है जहां आप अपना ऐसा निवेश, जिसे आप ज्यादा सक्रियता के साथ इस्तेमाल नहीं करेंगे, उसे ज्यादा सुरक्षित तरीके से रख सकते हैं.

Cryptocurrency Investment : क्या क्रिप्टोकरेंसी एक सुरक्षित निवेश का माध्यम बन सकती है? हां, क्रिप्टो कॉइन्स में निवेश से ज्यादा रिटर्न मिलता है, लग गए तो ज्यादा प्रॉफिट है, लेकिन इसमें उतना ही खतरा भी है, बाजार में बहुत ज्यादा उतार-चढ़ाव रहता है और मार्केट कभी-कभी अचानक से क्रैश भी हो सकता है.

क्रिप्टोकरेंसी बहुत से निवेशकों को अपनी ओर खींच रही है, लेकिन हाई-टेक टोकन्स का इस्तेमाल थोड़ा डराने वाला हो सकता है. ऐसे में हम आपको इस लेख में बता रहे हैं कि Bitcoin, Ether, या Dogecoin जैसै क्रिप्टो कॉइन्स कैसे खरीद और स्टोर कर सकते हैं.

Crypto wallets : क्रिप्टो वॉलेट एक सॉफ्टवेयर या ऐप होता है, जिसे आप अपने मोबाइल डिवाइस पर डाउनलोड कर सकते हैं. इसपर आप अपने क्रिप्टो असेट स्टोर कर सकते हैं. बस इतना ही नहीं, करेंसी ट्रेडिंग क्या है आप क्रिप्टोकरेंसी ट्रांजैक्शन के लिए इस वॉलेट का इस्तेमाल कर सकते हैं.

क्या आप क्रिप्टो ट्रेडिंग (Crypto Trading) में नए हैं? कहां से करें शुरुआत और क्या हर कोई कर सकता है ट्रेडिंग? आइए जान लेते हैं

आपको बता दें कि नए क्रिप्टो ट्रेडर्स (Crypto Traders) के लिए Binance और WazirX इस्तेमाल करना बहुत आसान है। इसे download करके बस KYC कंप्लीट कर लीजिए डिटेल्स सबमिट करने के बाद करेंसी ट्रेडिंग क्या है अपनी मनचाही digital currency में money add करके trading स्टार्ट कीजिए।

Are you new to Crypto Trading Where to start and can everyone do trading let's find out | क्या आप क्रिप्टो ट्रेडिंग (Crypto Trading) में नए हैं? कहां से करें शुरुआत और क्या हर कोई कर सकता है ट्रेडिंग? आइए जान लेते हैं

फोटो सोर्स: ANI फाइल फोटो

Highlights क्रिप्टो करेंसी ने पिछले कुछ वर्षों में काफी तेजी से ग्रो की है। ऐसे में जिन लोगों ने धैर्य से काम लिया है आज वे करोड़पति बन गए है। आज की तारीख में क्रिप्टो करेंसी में ट्रेड करना बहुत ही आसान बन गया है।

Crypto: वर्ष 2010 में 10000 रूपए की मूल्य के Crypto currency आज की तारीख में लगभग 66 करोड़ रूपए के हो गए हैं उस समय जिन्होंने धैर्य के साथ विश्वास करके invest बनाए रखा वो सभी आज करोड़पति बन गए।

अगर आप भी Crypto Trading के बारे में जानना चाहते हैं और ये जानना चाहते हैं कि Crypto Trading से कैसे आप एक side income बना सकते हैं, तो आप सबसे पहले कुछ basics समझ लीजिए या इसके लिए आप क्रिप्टो में Trade कैसे करें Beginner to Intermediate book की मदद ले सकते हैं ये Amazon या flipkart पर उपलब्ध है।

यहां खरीदें:

क्या है क्रिप्टो ट्रेडिंग (Crypto Trading)?

क्रिप्टो ट्रेडिंग (Crypto Trading) सुनकर लगता है कि कितना भारी भरकम नाम है पर ये बेहद आसान है। Crypto currency मतलब इंक्रिप्टेड यानी किसी विशेष कोड या पासवर्ड से सुरक्षित की गई मुद्रा और ट्रेडिंग मतलब बेचने के उद्देश्य करेंसी ट्रेडिंग क्या है से खरीदना। अब इसका सीधा सा मतलब ये है कि आप किसी digital currency को खरीदकर रखेंगे और जब इसका मूल्य बढ़ जायेगा तो आप इसे बेच कर मुनाफा कमाएंगे।

कितने प्रकार है क्रिप्टो करेंसी (Crypto currency)?

आज market में कई प्रकार की crypto currency उपलब्ध है जैसे कि Bitcoin, Etherium, Tether, Binance Coin, XRP और भी बहुत हैं आप इनमे से किसी को भी डिजिटल platform के द्वारा खरीद कर रख सकते हैं। इसमें Binance, Wazir X, Coin Switch जैसे आसान मोबाइल ऐप आपकी मदद कर सकते हैं।

क्या नए लोग भी कर सकते है क्रिप्टो ट्रेडिंग (Crypto Trading)?

नए क्रिप्टो ट्रेडर्स (Crypto Traders) के लिए Binance और WazirX इस्तेमाल करना बहुत आसान है। इसे download करके बस KYC कंप्लीट कर लीजिए डिटेल्स सबमिट करने के बाद अपनी मनचाही digital currency में money add करके trading स्टार्ट कीजिए। जब ग्राफ नीचे जा रहा हो तो खरीदो जब ग्राफ ऊपर जाए तो बेचो बस इतना आसान है और आप इस तरह से बन गए Crypto Trader.

क्या है नए Crypto Traders के लिए एक्सपर्ट टिप्स?

नए क्रिप्टो ट्रेडर्स (Crypto Traders) के लिए जानकारों ने कई टिप्स दिए है। इन टिप्स को फॉलो करके कोई भी बहुत आसानी से क्रिप्टो के बारे में जान सकता है। ऐसे में आइए इन टिप्स को एक-एक करके जान लेते है।

1. अपनी मनचाही डिजिटल currency में Invest करने से पहले उसके ऊपर research कीजिए जैसे कि टारगेट market क्या है? उसके कंप्टीटर्स कौन हैं? वो किस टेक्नोलॉजी पर based है? टीम और पार्टनरशिप के बारे में जानकारी लीजिए साथ ही डिमांड एंड सप्लाई कितनी है और लिक्विडिटी,वॉल्यूम आदि की जांच पड़ताल जरुरी है।

2. कुछ क्रिप्टो करेंसी high risk पर high return देती हैं जबकि कुछ low risk पर low return हो सकती है, आप कितना जोखिम उठा सकते हैं ये आप पर निर्भर करता है।

3. क्रिप्टो मार्केट को बारीकी से समझने का प्रयास कीजिए। किसी भी अखबार की अपुष्ट खबरों या अफवाह पर ध्यान मत दीजिए। खरीद फरोख्त करने से पहले इसके लिए टेक्निकल एनालिसिस को भी समझने की कोशिश कीजिए इसके अंतर्गत आप कैंडल स्टिक पैटर्न, मूविंग एवरेज, बॉलिंगर बैंड की सहायता से अपने निवेश को सुरक्षित तरीके से सफल बना सकते हैं।

इसके लिए आप मेरे द्वारा लिखी किताब क्रिप्टो में ट्रेड कैसे करें Beginner to Intermediate की सहायता ले सकते हैं। जिसमें आप colourful charts की मदद से जीरो लेवल से basics समझ करेंसी ट्रेडिंग क्या है करेंसी ट्रेडिंग क्या है सकते हैं और क्रिप्टो ट्रेडिंग में कब entry और कब exit करना है ये आसानी से समझ पायेंगे।

4. आप वाचलिस्ट और रिस्क मैनेज टूल की मदद से अपनी लाभ और हानि के अन्तराल को सुनिश्चित कर जोखिम को सीमित कर सकते हैं।

5.इन्वेस्ट करने के बाद कुछ बातों पर नजर बनाए रखें जैसे कि

कौन सी बड़ी कम्पनी क्रिप्टो में इन्वेस्ट कर रही है?

कौन सी नई Crypto Market में आई है?

कौन सी कम्पनी,इकोनॉमी या देश क्रिप्टो को accept कर रहे हैं?

क्रिप्टो trading में सही समय और मार्केट पर पैनी नजर के साथ टैक्निकल एनालिसिस बेहद कम समय में बड़ा मुनाफा आपको दिला सकता है बस हमारे साथ सीखते रहें और आगे बढ़ते रहें।

रेटिंग: 4.81
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 341