म्यूचुअल फंड में जब आप एसआईपी के जरिये निवेश करते हैं तो उसका प्रबंधन म्यूचुअल फंड मैनेजर अपने ब्रोकर को जानें करता है। लेकिन स्टॉक एसआईपी जिसे 'ई-सिप' कहा जता है उसमें निवेश का प्रबंधन खुद करना होता है या फिर आपका ब्रोकर इसे संभालता है। पको ब्रोकर को यह बताना पड़ता है कि आप कितने समय में कितना शेयर खरीदना चाहते हैं। ई-सिप खरीदते समय हमेशा उन शेयरों में निवेश करना चाहिए जिनके कारोबार और वित्तीय स्थिति मजबूत हों। ई-सिप का फायदा यह है कि आपके निवेश को डाइवर्सिफिकेशन का लाभ मिलता है। यानी आप अपना इनवेस्टमेंट अलग-अलग शेयरों में करते हैं। यह ध्यान रखना चाहिए कि ई-सिप के जरिये जब निवेश करें तो अलग-अलग शेयरों में करें।

Demat Account अपने ब्रोकर को जानें कैसे खोलें? यहां जानें प्रोसेस; Share Market में ट्रेडिंग करने के लिए है जरूरी

अगर आप शेयर बाजार में ट्रेडिंग करने की इच्छा रखते हैं तो आपका डीमैट खाता होना जरूरी है। डीमैट खाते को बैंक वित्तीय अपने ब्रोकर को जानें संस्थान या ब्रोकर के साथ खाला जा सकता है। यह ऑफलाइन और ऑनलाइन दोनों तरीकों से खोला जा सकता है।

नई दिल्ली, बिजनेस डेस्क। शेयर बाजार में निवेश और अपने ब्रोकर को जानें ट्रेडिंग करने के लिए डीमैट खाता होना जरूरी है। अगर किसी व्यक्ति का डीमैट खाता नहीं है तो वह शेयर बाजार में निवेश नहीं कर सकता है। डीमैट खाता खोलने के लिए सबसे पहले डिपॉजिटरी पार्टिसिपेंट (डीपी) का चुनाव करें, जिसके साथ आप डीमैट खाता खोलना चाहते हैं। यह कोई बैंक, वित्तीय संस्थान या ब्रोकर हो सकता है। डीपी का चुनाव आदर्श रूप से ब्रोकरेज शुल्क और वार्षिक शुल्क आदि के आधार पर करना चाहिए।

डीमैट खाता कैसे खोलें?

अपने ब्रोकर को जानें

Written by Web Desk Team | Published :November 21, 2022 , 11:06 am IST

महंगाई का मुकाबला करने के लिए, शेयर बाजारों और अन्य फाइनेंशियल इंस्ट्रूमेंट में निवेश और ट्रेडिंग पहले से कहीं ज्यादा महत्वपूर्ण हो गया है. यदि आप अपनी गाढ़ी कमाई को केवल फिक्स्ड डिपॉजिट जैसे ट्रेडिशनल फाइनेंशियल इंस्ट्रूमेंट (traditional financial instrument) में सेव करते हैं, तो आप अपने फाइनेंशियल गोल को पूरा करने से पीछे रह सकते हैं.

एक बिगिनर के रूप में आपको शेयर बाजार चुनौतीपूर्ण लग सकता है, हालांकि हम आपको आश्वस्त करते हैं कि ऑनलाइन ट्रेडिंग सीखना बहुत आसान है. ऑनलाइन ट्रेडिंग के आने से पहले, जो व्यक्ति बॉन्ड, शेयर, या अन्य सिक्योरिटीज जैसे फाइनेंशियल इंस्ट्रूमेंट को खरीदना या बेचना चाहते थे, उन्हें अपनी ब्रोकरेज फर्मों से संपर्क करना पड़ता था और उन्हें उनकी ओर से लेनदेन की व्यवस्था करने के लिए कहना पड़ता था. इसके बाद, प्राइस चेक करने, कॉन्ट्रैक्ट वेरीफाई करने और अंत में ट्रेड की पुष्टि करने की एक लंबी प्रक्रिया का पालन करना पड़ता था. हमें उस फीस को नहीं भूलना चाहिए जो ये ट्रेडिशनल ब्रोकर सर्विस के लिए मांगते थे. फिर आया डिस्काउंट ब्रोकर्स या ऑनलाइन ब्रोकर्स का युग, जिसने खेल को पूरी तरह से बदल दिया. इन्वेस्टमेंट और ट्रेडिंग जो अपने ब्रोकर को जानें पहले कुछ चुनिंदा लोगों के लिए विशेष रूप से अपने ब्रोकर को जानें उपलब्ध थी अब बहुत बड़ी संख्या में आम लोगों के लिए उपलब्ध कराया गया है.

शेयरों में भी SIP के जरिये कर सकते हैं आप निवेश, जानें तरीका

शेयरों में भी SIP के जरिये कर सकते हैं आप निवेश, जानें तरीका

आमतौर पर छोटे निवेश सिस्टमेटिक इनवेस्टमेंट प्लान (एसआईपी) के जरिये म्यूचुअल फंड में निवेश करते हैं। लेकिन, क्या आपको पता है कि आप एसआईपी के जरिये सीधे शेयरों में भी निवेश कर सकते हैं। यह सुविधा अपने ब्रोकर को जानें आपको शेयर ब्रोकर उपलब्ध करते हैं।

हालांकि, शेयरों में एसआईपी के जरिये निवेश करने के लिए आपके पास सबसे पहले डीमैट खता होना जरूरी है। डीमैट खाता खोलने की सुविधा ब्रोकर उपलब्‍ध कराते हैं। डीमैट खाता खुलने के बाद आप अपने मोबाइल एप के जरिये ब्रोकर के प्‍लेटफॉर्म का इस्‍तेमाल करते हुए शेयर बाजार से शेयरों की खरीद सकते हैं। इसके लिए आपका बैंक खाता डीमैट और ट्रेडिंग अकाउंट से जुड़ा होना चाहिए। इसके बाद आप महीने में एक तय राशि एसआईपी के जरिये सीधे शेयर खरीदने में लगा सकते हैं।

एक डीमैट अकाउंट से दूसरे में शेयर ट्रांसफर करने का जानें तरीका

  • Money9 Hindi
  • Publish Date - March 7, 2021 / 04:00 PM IST

एक डीमैट अकाउंट से दूसरे में शेयर ट्रांसफर करने का जानें तरीका

Demat Account: आपके पास डीमैट खाता (Demat Account) है और किसी वजह से आप अपने शेयर दूसरे डीमैट अकाउंट में ट्रांसफर करना चाहते हैं तो बेहद आसानी से कर सकते हैं. आज हम इसी बारे में आपको पूरी जानकारी देने जा रहे अपने ब्रोकर को जानें हैं. डीमैट खाते से शेयर कैसे ट्रांसफर कर सकते हैं जाने पूरी प्रक्रिया –

लोग अपना डीमैट खाता (Demat Account) तीन वजहों से बदलवाते हैं. पहली वजह उनके पास बहुत सारे खाते हैं और उन्‍हें संभालना मुश्किल हो रहा है या आपके डिपॉजिटरी पॉर्टिसिपेंट आपसे ज्‍यादा चार्ज ले रहे हैं. ऐसे में भी लोग ब्रोकर को बदलवाना चाहते हैं. तीसरी वजह कि लोग अपने स्‍टॉक ब्रोकर और उनकी सर्विस से खुश नहीं हैं.

Olymp Trade: चलता-फिरता ब्रोक‪र‬ 4+

विश्व-स्तरीय ब्रोकर की ट्रेडिंग एप। 80 से अधिक मशहूर असेट्स, डेमो खाते का प्रशिक्षण, बेहतरीन सेवा और बहुभाषीय सहायता 24/7.

Olymp Trade एक अंतरराष्ट्रीय ब्रोकर है जो अपने उपयोगकर्ताओं को अपने प्लेटफॉर्म पर 100+ वित्तीय साधनों तक पहुंच प्रदान करता है। इस ट्रेडिंग ऐप के साथ, अपने स्मार्टफोन को ट्रेड करने, प्रशिक्षण लेने और बाजार का विश्लेषण करने के लिए उपयोग करके आप हमारे सफल ट्रेडरों में से एक बन सकेंगे।

100+ असेट्स और 30+ इंडिकेटर्स
हमारे मोबाइल ट्रेडिंग ऐप का एक सहज और उपयोगकर्ता के अनुकूल इंटरफेस आपको लाभदायक ट्रेड करने के लिए संकेतक और विश्लेषणात्मक साधनों को आसानी से खोजने और उपयोग करने में सक्षम बनाता है। अपनी पसंद का असेट प्रकार चुनें, उनके कुछ उदाहरण हैं:
● स्टॉक: Apple, Tesla, Google
● सूचकांक: S&P500, Dow Jones
● धातु: सोना, चाँदी
● कमोडिटी:: Brent, प्राकृतिक गैस
● ETF और कई अन्य असेट ट्रेडिंग के लिए उपलब्ध हैं।

रेटिंग: 4.77
अधिकतम अंक: 5
न्यूनतम अंक: 1
मतदाताओं की संख्या: 734